• Chief Minister's visit at Sanitary Park kanker-Chhatisgarh
    Chief Minister's visit at Sanitary Park kanker-Chhatisgarh (Technical support provided by Samarthan in preparation of the Sanitary Park)
  • Community lead total Sanitation book in Hindi released by ChiefMinister Chhatisgarh
    Community lead total Sanitation book in Hindi released by ChiefMinister Chhatisgarh (Book prepared by Samarthan and printed by district administration kanker)
  • Bundelkhan CSs meeting in Jahani
  • Identifying the rights of migrants and their families
  • Bundelkhan CSs meeting in Jahani MNREGA

सरपंच लखनलाल ने किए विषेष प्रयास। 299 घरों हुआ शौचालय का निर्माण

आष्टा। विकास खण्ड के डोडी गांव में पिछले छह महीनों में स्वच्छता को लेकर अनूठा बदलाव आया। आज यहां के 299 घरों में शौचालय हैं, जिससे यह गांव खुले में सोच से मुक्ति की ओर अग्रसर है।
छह महीने पहले यहां ज्यादातर घरों में शौचालय नहीं थे और लोग खुले में शौच के लिए विवष थे। इससे गांव में गंदगी और बीमारियां फैल रही थीं। इस दषा में निर्मल सीहोर अभियान की टीम ने यहां रात्रि चैपाल का आयोजन किया। रात्रि चैपाल में ग्रामवासियों के साथ ही यहां के सरपंच लखनलाल मेवाड़ा भी शामिल हुए। इस दौरान गांव मंे खुले में शौच की स्थिति पर चर्चा हुई। लोगों को यह समझ में आया कि खुले में शौच से गंदगी और बीमारियां तो फैल ही रही है, साथ ही महिलाओं को भी सुबह जल्दी और शाम के बाद अंधेरे में शौच के लिए जाना पड़ता है, जो मर्यादा के विपरीत और स्वास्थ्य की दृष्टि से तकलीफदेह है। अतः चर्चा के दौरान सरपंच श्री लखनलाल ने घर-घर शौचालय निर्माण का संकल्प लिया।
इस संकल्प के बाद गांव में शौचालय निर्माण के लिए अभियान चलाया गया। सरपंच लखनलाल दुकानांे और बाजार में आने वाले लोगों को शौचालय निर्माण के लिए प्रेरित करने लगे। उनके इस अभियान में पंचों और ग्रामवासियों ने भी सक्रिय भागीदारी की।
toilet_ashtaइसी प्रयास के फलस्वरूप आज 299 घरों में सोख्ता गड्डे वाले शौचालयों का निर्माण हो चुका है और लोग उनका उपयोग करने लगे हैं, जबकि 12 घरों में निर्माण कार्य जारी है। इस तरह कुछ ही दिनों में यह गांव शत प्रतिषत शौचालय का लक्ष्य हासिल करने में सफल होगा।
सरपंच लखनलाल का मानना है कि स्वच्छता के लिए शौचालय के साथ-साथ पानी भी आवष्यक हैं। अतः उन्होंने जनवरी माह मेें पूरी पंचायत के हर घर में पेयजल उपलब्ध कराने का संकल्प भी लिया। उल्लेखनीय है कि इस पंचायत में डोडी के साथ ही एक और गांव रातीखेड़ा भी शामिल है। इन दोनों ही गावंों में पिछले चार सालों से नलजल योजना का कार्य अधूरा पड़ा था। इस काम को पूरा करने के लिए सरंपच लखनलाल ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के इंजीनियर से सम्पर्क किया और टेंडर जारी करवाकर काम प्रारंभ करवाया। ग्राम रातीखेड़ा में तो 3 प्रतिषत राषि जमा भी हो चुकी है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा गांव का सर्वे कर लिया गया है और जल्दी ही नल जल योजना का काम शुरू होने की संभवना है। इससे लोगों को यह उम्मीद बंधी है कि जल्दी की उनकी पंचायत सम्पूर्ण स्वच्छ और साफ पेयजल युक्त पंचायत बन सकेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *