• Chief Minister's visit at Sanitary Park kanker-Chhatisgarh
    Chief Minister's visit at Sanitary Park kanker-Chhatisgarh (Technical support provided by Samarthan in preparation of the Sanitary Park)
  • Community lead total Sanitation book in Hindi released by ChiefMinister Chhatisgarh
    Community lead total Sanitation book in Hindi released by ChiefMinister Chhatisgarh (Book prepared by Samarthan and printed by district administration kanker)
  • Bundelkhan CSs meeting in Jahani
  • Identifying the rights of migrants and their families
  • Bundelkhan CSs meeting in Jahani MNREGA

काम मांगो अभियान में स्वयंसेवी संगठन निभा रहे सक्रिय भागेदारीे

गुड़ियाना मनौर के आदिवासी वोले काम नही मिलेगा, तो जायेगे परदेष 71 मजदूरो ने ग्राम पंचायत सचिव के समक्ष लगाये काम के आवेदन अभियान में लग चुके 872 आवेदन, 25 ग्राम पंचायत में चल रहा अभियान

जिले में मनरेगा की स्थिति सनतोषजनक नही होने के बावजूद मजदूर काम करने के लिये तैयार है,उनकी एक ही शर्त है कि कम से कम 15 दिन में मजदूरी मिल जाय। इसके लिये जिले के अधिकारी तैयार है। वषर्ते को तकनीकी खामी न आये। जिले में कार्यरत स्वयंसेवी संगठन समर्थन,पत्थर खादान मजदूर संघ, मानसी संस्था, ज्योत्सा समिति एवं मनरेगा मजदूर संघ इन दिनो पन्ना जनपद की 25 ग्राम पंचायतो में श्रमिक एवं मेंट के सहयोग से मनरेगा में मजदूरो को जोड़ने एवं काम करने के लिये लगातार प्रेरित किया जा रहा है।

इसके लिये वकायदा ग्रामीण क्षेत्र एवं मजरे टोले में मजदूरो के साथ वैठक कर काम के आवेदन संयुक्त रूप् से लगवाने का कार्य किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र से अधिकांष मजदूर पलायन कर जिले से वाहर काम करने चले गये है लेकिन जो मजदूर गांव में है या खेती किसानी जैसे काम में लगे है उनके लिये मजदूरी की आवष्यकता को पूरा करने के लिये यह अभियान कारगर सावित हो रहा है। 25 ग्राम पंचायत में समर्थन पलायन सन्दर्भ केन्द्र काम मांगो अभियान एवं रोजगार दिवष कार्यक्रम को गति प्रदान करने के लिये लगातार काम करेगा । आज मनरेगा मजदूर संघ की वैठक में इस कार्य को विस्तार देने पर चर्चा की गई है। इन सभी ग्राम पंचायतो में पलायन पंजी संधारित करने पर ग्राम सभा में चर्चा हुई एवं प्रस्ताव पारित किया गया है।

जिला प्रषासन से अपेक्षा – मनरेगा मे कार्यरत श्रमिको का समय पर मजदूरी भुगतान हो, ताकि मजदूरो का मनरेगा से विष्वास बना रहे और मजदूर काम की तलास में जिले एवं राज्य से वाहर न जाये। जिले में चल रहे मनरेगा या बुन्देलखण्ड पैकेज के कार्य में भी मजदूरो का नियोजन किया जाय। सिर्फ मनरेगा पर मजदूरो को आश्रित न किया जाय। बुन्देल खण्ड पैकेज से करोड़ो रू का निर्माण कार्य जिले में हो रहा है लेकिन मजदूरी मजदूरो को नही मिल रही है। इस पर प्रषासन को गौर करना आवष्यक है। अभियान में मुख्य रूप से पृथ्वी एवं पत्थर खदान के अध्यक्ष युसुफवेग, मनरेगा मजदूर संघ के रामसहाय कुषवाहा,पूरन लाल, ज्योत्सना समिति से सुनील मिश्रा, मानसी संस्था के सुदीप श्रीवास्तव एवं समर्थन संस्था के ब्लाक समन्वयक रामऔतार तिवारी , श्रमिक मित्र इसकी अगुआयी कर रहे है।